Breaking News

हिमाचलः पहाड़ी धंसने से पूरा कस्बा और दो बसें चपेट में, 13 शव बरामद

शिमला। हिमाचल प्रदेश के जोगेंदरनगर के समीप पठानकोट-मंडी राष्ट्रीय राजमार्ग पर शनिवार देर रात करीब एक बजे कोटरूपी के पास भारी भूस्खलन हुआ। पूरी पहाड़ी धसने से पूरा कोटरूपी कस्बा और दो बसें मलबे की चपेट में आ गई है। हादसे में फिलहाल 13 यात्रियों के मारे जाने की पुष्टि हुई है जबकि अभी भी कई लोग दबे हैं।

कोटरोपी में बादल फटने से मलबे में दबे लोगों को निकालने के लिए आर्मी व एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंच गई है। पालमपुर से 9 ग्रेडेनियर आर्मी के जहां 120 जवान घटनास्थल पर पहुंच गए हैं, वहीं एनडीआर के दर्जनों जवानों ने भी मौके पर बचाव कार्य शुरू कर द‍िया है और लापता लोगों को निकालने का कार्य शुरू कर दिया है। वहीं मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह भी कुछ ही देर में कोटरोपी पहुंचने वाले हैं। मलबे में दबे लोगों को निकालने का कार्य युद्धस्तर पर चल रहा है। प्रशासनिक अधिकारी व पुलिस कर्मी पहले से ही मौके पर तैनात हैं।

कोर्टरूपी में दो बसें रात को चाय पानी के लिए रुकी थीं। जैसे ही पहाड़ी धसी तो दोनों बसें भूस्खलन की चपेट में आ गईं। कटड़ा मनाली रुट पर जा रही बस में करीब सात यात्री सवार थे जिनमें से दो की मौत हुई है। बस में एक बच्ची फंसी हुई है। वहीं चम्बा मनाली रूट की बस में से करीब 15 मिनट पहले बचाओ बचाओ की आवाजें आ रही थीं जो अब आना बंद हो गई हैं।

अंदाजा लगाया जा रहा है कि इस बस में कई यात्री सवार थे जिनकी मौत हो गई है। भारी बारिश के कारण आए मलबे व पानी से यह बस करीब एक किलोमीटर नीचे बाह गई है। भारी बारिश व अंधेरा होने के कारण प्राशसन ने राहत एवं बचाव कार्य रोक दिया है।

मंडी पठानकोट मार्ग पर वाहनो की आवाजाही मंडी व जोगेन्द्रनगर में रोक दी गई है ताकि एम्बुलेंस मौके के लिए रवाना हो सकें। हादसा रात एक बजे के आसपास हुआ। सूचना मिलते ही जिला प्रशासन की ओर से तमाम आला अधिकारी मौके की तरफ रवाना हो गए हैं।

Related Posts

Leave A Comment