Breaking News

रिंग रोड को लेकर हुआ एनएचएआई से एमओयू, लागत 1200 करोड़ राशि  

जयपुर। राजधानी के रिंग रोड को लेकर आखिरकार लंबे अंतराल के बाद राज्य सरकार और एनएचएआई के बीच एमओयू हो गया। यूडीएच मंत्री श्रीचंद कृपलानी और परिवहन मंत्री युनूस खान की मौजूदगी में इस एमओयू पर साइन हुए। अब इस रिंग रो़ड का निर्माण भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के जरिये होगा। इस परियोजना के लिए आवश्यक भूमि जयपुर विकास प्राधिकरण की तरफ से उपलब्ध कराई जाएगी।

आगरा रोड से अजमेर रोड तक यह रिंग रोड छह लेन का बनेगा। वहीं दिल्ली रेलवे लाइन और सवाईमाधोपुर रेलवे लाइन पर रेलवे ओवर ब्रिज भी बनेगा। वहीं फागी रोड पर फ्लाईओवर का निर्माण किया जाएगा। एमओयू होने के बाद यूडीएच मंत्री श्रीचंद कृपलानी ने बताया कि 15 महीने के अंदर इस रिंग रोड का पूरा निर्माण हो जाएगा और 1200 करोड़ रुपये की कुल लागत इस पर आएगी।

वहीं परिवहन मंत्री युनूस खान ने बताया कि केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी की पहल से यह एमओयू हुआ है। उन्होंने कहा कि काफी लंबे समय से इस रिंग रोड का मामला अटका हुआ था, कभी जेडीए तो कभी पीडल्ब्यूडी को इसका निर्माण कार्य करना था, लेकिन अब एनएचएआई के जरिये इस रिंग रोड का निर्माण होगा।

Related Posts

Leave A Comment