Breaking News

मुंबई: अमेरिका से लौटा बेटा, दरवाजा खोला तो मिला 63 साल की बुजुर्ग मां का कंकाल

मुंबई। मायानगरी के पॉश इलाके लोखंडवाला के वेल्सकॉड टावर की दसवीं मंजिल पर स्थित एक बंद फ्लैट में रविवार को 63 वर्षीय महिला का कंकाल मिलने से सनसनी फैल गई। पुलिस ने बताया कि महिला का बेटा डेढ़ साल बाद रविवार को दोपहर जब भारत आया तो मां के फ्लैट का दरवाजा अंदर से बंद था, जिसे तोड़ने के बाद अंदर जाने पर उसने मां का कंकाल बेड पर देखा। महिला की पहचान आशा केदार साहनी के रूप में हुई, जिसका बेटा रितुराज साहनी यूएसए में आईटी इंजिनियर हैं। वह परिवार समेत अमेरिका में ही रहता है।

पति की मौत 2013 में हुई थी
आशा के पति केदार साहनी की मौत 2013 में हो चुकी है। घटना की सूचना महिला के बेटे ने पुलिस दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने कंकाल का पंचनामा कर उसे पोस्टमॉटर्म के लिए गोरेगांव स्थित सिद्धार्थ अस्पताल भेज दिया है। रितुराज शनिवार को अमेरिका से भारत आया है। बताया जा रहा है कि आशा ने डेढ़ साल पहले बेटे से आखिरी बार बात की थी। आशा के वेल्सकॉड टावर में दो फ्लैट हैं, जिसकी कीमत करीब 5 से 6 करोड़ रुपये बताई जा रही है।

पुलिस ने बताया कि आशा का कंकाल जिस फ्लैट से बरामद हुआ है, उसका दरवाजा अंदर से बंद था। कयास लगाया जा रहा है कि महिला ने खुदकुशी की होगी, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही ये बातें स्पष्ट होंगी। हालांकि पुलिस हत्या या आत्महत्या, दोनों ऐंगल से मामले की जांच कर रही है।

वृद्धाश्रम जाने की कही थी बात
पुलिस के अनुसार आशा ने अप्रैल 2016 में आखिरी बार बेटे को अमेरिका में कॉल कर कहा था कि वह अब इस अकेलेपन में नहीं रहना चाहती। वह किसी वृद्धाश्रम में चली जाएगी। वह डिप्रेशन में हैं। हालांकि बेटे पर मां की बातों का असर नहीं हुआ और वह अमेरिका से भारत नहीं आया।

 

Related Posts

Leave A Comment