Breaking News

सुषमा की तारीफ करते हुए पाकिस्तानी महिला ने लिखा, ‘काश आप हमारी PM होतीं’

नई दिल्ली। ट्विटर पर अपनी मौजूदगी और लोगों तक मदद पहुंचाने के कारण सुषमा स्वराज अक्सर ही सुर्खियों में रहती हैं। सुषमा की भलमनसाहत ने कई बार लोगों का दिल जीता है। इस बार उनके प्रशंसकों में भारतीयों के साथ-साथ पाकिस्तान की एक महिला का नाम भी शुमार हो गया है।

इस महिला ने सुषमा की तारीफ करते हुए ट्विटर पर जो लिखा वह शायद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को बेहद नागवार गुजरेगा। पाकिस्तान की हिजाब आसिफ ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘आपको बहुत-बहुत सारा प्यार और सम्मान। काश आप हमारी प्रधानमंत्री होतीं। अगर ऐसा होता तो यह देश बदल गया होता।’

यह मामला कुछ ऐसा था कि पाकिस्तान के एक शख्स को इलाज के लिए भारत आना था, लेकिन उनके मेडिकल वीजा का आवेदन अटका पड़ा था। इसी शख्स की मदद के लिए हिजाब ने ट्विटर पर सुषमा से मदद मांगी थी।

सुषमा ने हिजाब को निराश नहीं किया और तुरंत कार्रवाई करते हुए उन्होंने भारतीय दूतावास को इस मामले में कार्रवाई करने का निर्देश दिया। भारतीय दूतावास ने एक ट्वीट कर हिजाब को आश्वासन दिया कि उनकी अपील को ध्यान में रखते हुए कार्रवाई की जा रही है।

सुषमा द्वारा दिखाई गई इस सहृदयता ने हिजाब का दिल जीत लिया। एक अन्य ट्वीट में सुषमा को धन्यवाद करते हुए हिजाब ने लिखा, ‘आपको क्या कहूं मैं? सुपरवुमन कहूं या ईश्वर कहूं? आपकी सदाशयता का बखान करने के लिए मेरे पास शब्द कम पड़ रहे हैं। आपको बहुत सारा प्यार।

मेरी आंखों में खुशी के आंसू हैं और मेरी जुबान आपकी तारीफ करना बंद नहीं कर रही है।’ इस हफ्ते की शुरुआत में भारत के एक नागरिक ने अपनी पाकिस्तानी पत्नी के लिए वीजा का इंतजाम कराने के लिए सुषमा से मदद मांगी थी।

उसकी अपील पर सुषमा ने जो जवाब दिया उसने सबका दिल जीत लिया। सुषमा ने लिखा, ‘भारत की बेटियों और पाकिस्तान सहित दुनिया के किसी भी हिस्से से ताल्लुक रखने वाली इसकी बहुओं का इस देश में हमेशा स्वागत है।’

हर साल सैकड़ों की संख्या में पाकिस्तानी नागरिक भारत में इलाज कराने आते हैं। पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत द्वारा भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को फांसी की सजा सुनाए जाने के बाद दोनों देशों के बीच पैदा हुए तनाव के कारण मेडिकल वीजा को मंजूरी दिए जाने की प्रक्रिया धीमी हो गई है।

सुषमा ने कुछ समय पहले लिखा था कि पाकिस्तानी नागरिकों को इलाज के लिए भारत आने की इजाजत मिलती रहेगी, लेकिन अपने वीजा के आवेदन के साथ उन्हें पाकिस्तानी विदेश विभाग द्वारा जारी की गई सिफारशी चिट्ठी भी देनी होगी।

 

 

Related Posts

Leave A Comment