Breaking News

संस्कृत दिवस पर होगा 13 विद्वानों का सम्मान, चयन समिति की बैठक में हुआ फैसला

जयपुर। संस्कृत शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी ने 4 अगस्त को संस्कृत दिवस के मौके पर होने वाले राज्य स्तरीय संस्कृत विद्वत सम्मान समारोह-2017 की तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक ली। बैठक में संस्कृत दिवस के मौके पर सम्मानित होने वाले विद्वानों का चयन भी चयन समिति द्वारा किया गया।

शासन सचिवालय परिसर में बुधवार को हुई इस बैठक में चार श्रेणियों में सम्मानित होने वाले कुल 13 विद्वानों के नामों पर सहमति बनी। उल्लेखनीय है कि संस्कृत दिवस के अवसर पर इन श्रेणियों में विद्वानों को सम्मानित किया जाएगा।

पहली श्रेणी में संस्कृत साधना शिखर सम्मान को रखा गया है, जिसमें चयनित विद्वान को 1 लाख रूपए की राशि के साथ श्रीफल और शाॅल भेंट किया जाएगा। द्वितीय पुरस्कार संस्कृत साधना सम्मान है, जिसमें 51 हजार, तीसरा पुरस्कार संस्कृत विद्धत्सम्मान है, जिसमें विद्वान को 31 हजार और चौथा पुरस्कार संस्कृत युव-प्रतिभा-पुरस्कार के अंतर्गत 21 हजार रूपए की राशि और शाॅल भेंट किया जाता है।

माहेश्वरी ने कहा कि आगामी 4 अगस्त को संस्कृत दिवस समारोह रवींद्र मंच सभागार में आयोजित किया जाएगा। संस्कृत के क्षेत्र में निरंतर साधना करने वाले ऐसे विद्वानों को सम्मानित किया जाता है, जिनसे युवाओं को संस्कृत भाषा के प्रति अध्ययन की प्रेरणा मिले।

बैठक में विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजहंस उपाध्याय, राजस्थान संस्कृत अकादमी की अध्यक्ष डाॅ. जया दवे, अटरू-बारां विधायक रामपाल, संस्कृत शिक्षा के निदेशक विमल कुमार जैन, डाॅ. सुनीता शर्मा, डाॅ दिवाकर मिश्र, डाॅ. भास्कर शर्मा, डाॅ. विनोद बिहारी शर्मा और डाॅ. सत्यनारायण शर्मा सहित कई अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Related Posts

Leave A Comment