Breaking News

बस्सी में पैसेन्जर ट्रेनों के भरोसे हजारों यात्री

एक्सप्रेस ट्रेनों का नहीं ठहराव 
बस्सी।(महानगर संवाददाता)पिछले कई सालों से प्रतिदिन औसतन दो हजार से अधिक यात्रियों की रोजाना आवाजाही के बावजूद बस्सी रेलवे स्टेशन पर एक भी एक्सप्रेस ट्रेन का ठहराव ना होने से ना केवल बस्सी बल्कि आसपास के हजारों मुसाफिरों को भारी परेशानी उठाकर दौसा या जयपुर से सफर करना पड़ता है। वर्तमान में बस्सी रेलवे स्टेशन पर महज दो पैसेन्जर ट्रेनों का ही ठहराव है, इनमें जयपुर-हिसार और मथुरा-जयपुर पैसेन्जर ट्रेन शामिल है। स्वयं रेलवे के आंकड़ों के अनुसार केवल इन दो पैसेन्जर ट्रेनों की बदौलत बस्सी से रोजाना करीब दो हजार से अधिक यात्री सफर करते है। जिनसे रेलवे को करीब बारह से तेरह हजार रुपए प्रतिदिन के राजस्व की प्राप्ति होती है। ऐसे में अगर बस्सी स्टेशन पर एक्सप्रेस ट्रेनों का ठहराव शुरू हो जाए तो मुसाफिरों को काफी सहूलियत हो जाए। बस्सी रेलवे स्टेशन पर विभिन्न एक्सप्रेस ट्रेनों के ठहराव को लेकर दैनिक रेल यात्री संघ लम्बे समय से प्रयासरत है। संघ द्वारा इस सिलसिले में केन्द्रीय रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा से व्यक्तिश: मिलकर भी गुहार लगाई गई मगर उसका भी कोई नजीता नहीं निकला। इसी प्रकार रेलों के ठहराव को लेकर बस्सी सहित जमवारामगढ़ एवं आसपास की अन्य पंचायत समितियों के ग्रामीणों ने भी समय समय पर बस्सी स्टेशन पर ट्रेनों के ठहराव की मांग उठाई है।

हम लोग लम्बे समय से इसी कोशिश में जुटे हैं कि कम से कम प्रारम्भिक तौर पर बस्सी स्टेशन पर एक ट्रेन का भी ठहराव शुरू हो पाए तो प्राप्त होने वाले राजस्व की गणना के आधार पर शेष ट्रेनों के ठहराव की मांग भी मजबूत तरीके से रखी जा सके।
एडवोकेट मनीष शर्मा
सदस्य, मण्डल रेल उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति, जयपुर

Related Posts

Leave A Comment