जयपुर-मालपुरा-भीलवाड़ा मार्ग को नेशनल हाईवे बनाने का रास्ता साफ

जयपुर। जयपुर-भीलवाड़ा स्टेट हाईवे संख्या 12 के राष्ट्रीय राजमार्ग बनने का रास्ता साफ हो गया है। राज्य सरकार ने सांगानेर(जयपुर)-फागी-मालपुरा-केकड़ी-शाहपुरा-माण्डल(भीलवाड़ा) राज्य राजमार्ग को राष्ट्रीय राजमार्ग में विकसित करने के लिए अनापत्ति जारी कर दी है। अब यह प्रस्ताव केन्द्र सरकार को भिजवाने का अनुमोदन किया गया है।

इसके साथ ही सोयला (एनएच-65) से बालेसर(एनएच-114) वाया ओसिया-तिवरी सड़क को भी राष्ट्रीय राजमार्ग में विकसित करने के लिए प्रस्ताव केन्द्र सरकार को भेजने के लिए स्वीकृति प्रदान की गई है। सार्वजनिक निर्माण एवं परिवहन मंत्री यूनुस खान ने बताया कि इसी कड़ी में 212 किलोमीटर लम्बे जयपुर-भीलवाड़ा स्टेट हाईवे संख्या 12 को राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित करवाने एवं इसके चार लेन में चौड़ाईकरण का प्रस्ताव तैयार किया गया है।

खान ने बताया कि सोयला (एनएच-65) से बालेसर(एनएच-114) वाया ओसिया-तिवरी सड़क को भी राष्टÑीय राजमार्ग घोषित करने के लिए केन्द्र सरकार को प्रस्ताव प्रेषित किया जाएगा। यह सड़क कुल 126 किलोमीटर लम्बी है। वर्तमान में पूरी लम्बाई में डामर सड़क है। जोधपुर जिले के ओसियां, तिंवरी व बालेसर प्रमुख कस्बों में गिने जाते है। ओसियां कृषि एवं पर्यटन क्षेत्र, तिंवरी कृषि क्षेत्र तथा बालेसर खनिज (सैंडस्टोन) क्षेत्र के दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण कस्बे हैं। इस सड़क को नेशनल हाई-वे घोषित कर विकसित करने से नागौर, जोधपुर एवं बाड़मेर जिले लाभान्वित होंगे तथा इस क्षेत्र के कृषि, पर्यटन एवं खनिज उद्योग के विकास से चहुंमुखी उन्नति होगी।

Related Posts

Leave A Comment